यूपी में 74 हजार पदों पर बड़ी भर्ती चुनाव से पहले CM योगी आदित्यनाथ ने दिया बड़ा तोहफा - ForexFly

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, May 16, 2024

यूपी में 74 हजार पदों पर बड़ी भर्ती चुनाव से पहले CM योगी आदित्यनाथ ने दिया बड़ा तोहफा

 


विधानसभा चुनावों से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी नौकरियों के लिए 74 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया जल्द शुरू करने को कहा है। उन्होंने शुक्रवार को निर्देश दिए कि यह काम पूरी पारदर्शिता व निष्पक्षता से होना है। खराब छवि वाले विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बिल्कुल न बनाया जाए। परीक्षाएं पूरी तरह नकल विहीन होनी चाहिए। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक परीक्षा के लिए तिथि जल्द तय कर दी जाएगी। सूत्रों ने बताया कि यह परीक्षा अगस्त में कराई जाएगी।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उप्र लोक सेवा आयोग, उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, उप्र उच्चतर शिक्षा चयन आयोग और उप्र माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के अध्यक्षों के साथ खाली पदों पर भर्ती के संबंध में देर शाम को बैठक की।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन पारदर्शी ढंग से हो। बड़ी परीक्षाओं को मण्डल स्तर पर और छोटी परीक्षाओं को जिला स्तर पर आयोजित किया जाए। अभ्यर्थियों को परीक्षा देने के लिए अधिक दूरी न तय करनी पड़े। उन्होंने सभी आयोगों/बोर्ड के अध्यक्षों से कहा कि शासन से जुड़े मामलों में वे मुख्यमंत्री कार्यालय से सीधे सम्पर्क कर समस्या का तुरन्त समाधान कराये ।


सीएम बोले, पहले नियुक्तियों में भ्रष्टाचार होता था


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीते सवा चार वर्षों में यूपी में सरकारी पदों पर हुई हर भर्ती ने शुचिता, पारदर्शिता और ईमानदारी की मिसाल कायम हुई है। वर्ष 2017 के पहले जिस यूपी में भर्ती प्रक्रिया भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद और वसूली की पारिवारिक महाभारत की भेंट चढ़ जाती थी।

वहां चार लाख से अधिक पदों पर हुई नियुक्तियों में से एक पर भी सवाल नहीं किया जा सकता। यह नई कार्य संस्कृति, नए भारत के नए उत्तर प्रदेश की है। यूपी में बदलाव टीम वर्क का नतीजा है। 


पीईटी परीक्षा अगस्त में, समूह ग के पद भरे जाएंगे


प्रदेश सरकार ने सरकारी विभागों में नौकरिया देने की मुहिम के तहत अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक अहंता परीक्षा (पीईटी) अगस्त में कराने का फैसला किया है। इस परीक्षा में 20 लाख 73 हजार 540 अभ्यर्थी शामिल होंगे। प्रारंभिक परीक्षा के बाद अक्तूबर में मुख्य परीक्षा कराई जा सकती है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। आयोग के चेयरमैन प्रवीर कुमार ने बताया कि परीक्षा दो पालियों में होगी। लिखित परीक्षा के लिए 3000 से अधिक केंद्र सभी जिलों में बनाए जाएंगे। परीक्षा में अंग्रेजी को अनिवार्य किया गया है। 100 बहुविकल्पीय प्रश्नों की लिखित परीक्षा में माइनस मार्किंग होगी।


30 हजार पद है उत्तर प्रदेश अधीनस्थ  चयन आयोग के


27 हजार पद उप माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन न बोर्ड के हैं


17 हजार पदों पर उच्चतर शिक्षा चयन आयोग नियुक्ति 


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot